आज धूम धाम से बुराई पर अच्छाई के प्रतीक दशहरा पर्व मनावल गइल. भारतीय संस्कृति के परिचायक दशहरा लोगन के दिल में अच्छाई जगावे ला और भाईचारा बढ़ावे ला हमहन के सामाजिक त्यौहार ह.

आज भोजपुरी खोज डॉट कॉम के तरफ से आप सभी लोग के दशहरा पर्व के हार्दिक बधाई आ शुभकामना. ई पर्व आपके जीवन में अच्छाई के रोशनी लेके आवे और जीवन राउर धन्य धान्य से भरल होखे.

आज आवश्यक बा कि हमहन के अपना अंदर के रावण के मारल जाव आ अपना अंदर अच्छाई के रोशनी जागृत कइल जाव.

जरूरत बा आज आपन सोच में बदलाव कइला के,अपना भारतीय संस्कृति के फर्जी ठेकेदार बने वाला लोगन से सचेत रहला के.

हमेशा याद राखल जाव कि रावण आजुवो जिंदा बा,लोग हर साल मुवल रावण के जरावे ला लेकिन समाज में मौजूद रावण ,कंस पर आंख मुद लेबे ला.

आज समाज में जइसन कुछ घटित हो रहल बा ओह पर आंख मूंद के ना रहीं सभे,आपन विचार जरूर सोझा राखल जाव.

आज दशहरा के पर्व पर आप सभ के एक बार फिर से शुभकामना.