कासगंज हिंसा की फाइल फोटो

26 जनवरी को यूपी के कासगंज में दो समुदायों के बीच हुई हिंसा के बाद हालात धीरे-धीरे सुधार रहे हैं. पुलिस के अनुसार इस मामले में अब तक 112 लोगों को गिरफ्तार किया गया है जिनमें से 31 नामजद हैं बाकी 81 लोगों को एहतियातन गिरफ्तार किया गया है.

हिंसा में मारे गए युवक के परिजन को सरकार 20 लाख रुपए का मुआवजा देगी जबकि खुद मुख्यमंत्री हालात पर नजर बनाए हुए हैं.

खबरों के अनुसार रविवार सुबह भी कुछ उपद्रवियों ने एक दुकान में आग लगा दी हालांकि जल्द ही हालत को काबू में कर लिया गया. जहां कर्फ्यू हटा लिया गया है वही अधिकारी ड्रोन की मदद से निगरानी कर रहे हैं.

प्रधान सचिव गृह ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा चंदन गुप्ता के परिवार को 20 लाख रुपए मुआवजा देने की घोषणा की गई है जो कि सोमवार तक परिवार को दे दी जाएगी.

इस घटना के संबंध में चिन्हित किए गए व्यक्तियों की गिरफ्तारी के लिए टीमों का गठन कर दबिश दी जा रही है कानून व्यवस्था की स्थिति नियंत्रण में है वही कानून व्यवस्था बनाए रखने हेतु कासगंज शहर में धारा 144 लागू है.