Surinder635108-09-2014-08-47-99N
फाइल फोटो – सुरेन्द्र कोली

निठारी कांड मे दोषी सुरेन्द्र कोली के फांसी के सजा पर फिलहाल रोक लगा दिहल गईल बा. सुप्रीम कोर्ट से स्टे आँडर मिलला के बाद कोली के फांसी एक हफ्ता के खातिर टाल दिहल गईल बा.

मेरठ जेल के सुपरिटेंडेंट एसएम रिजवी बतवलन कि फांसी के तारीख के सात दिन के खातीर आगे बढा दिहल गईल बा. पहिले सुरेन्द्र कोली के 12 सितंबर के फांसी दियाये वाली रहे.

ख़बर के अनुसार रिजवी कहलन कि फांसी रोकेला आदेश उनकरा के डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट से मिलल. आ आगे कार्रवाई ला अगिलका आदेश के इंतजार कईल जाई. उधर जेल प्रशासन फांसी के सगरो तैयारी पुरा कर लेले बा.

एह से पहिले २७ जुलाई के राष्ट्रपति द्वारा कोली के दया याचिका खारीज कईल जा चुकल बा.

का बा पुरा मामला

दरअसल पुरा माल सन २००६ के बा जब एगो लापाता लईकी के बारे मे पुलिस के जानकारी मिलल कि ओकर हत्या सुरेन्द्र कोली कईले बा.

जांच के दौरान पता चलल कि जहां कोली नौकर के रूप में काम करत रहे ओकरे पास एगो नाला मेंं छोटवर लईकन के बा.एह मामले मे निचली अदालत सुरेन्द्र कोली के अलावा मोनिंदर सिंह पंढेर के फांसी के सजा सुनवलसि. लेकिन इलाहाबाद हाई कोर्ट मामले में पंढेर के बरी कर दिहलस आ कोली के फांसी के सजा बरकरार रखलसि.

बाद में कोली के सजा के सुप्रीम कोर्ट भी जारी रखलस आ फिर राष्ट्रपति द्वारा दया याचिका खारीज कर दिहल गईल.