सिवान के बहुचर्चित तेजाब हत्याकांड में नेता आ पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन के याचिका पटना उच्चन्यायालय द्वारा खारिज कर दिहल गइल. कोर्ट द्वारा शहाबुद्दीन के उम्र कैद के सजा बरकरार राखल गइल बा.

न्यायाधीश के.के मंडल आ संजय कुमार के खंडपीठ मामले के याचिका के खारिज कर निचली अदालत द्वारा दिहल उम्र कैद के सजा बरकरार रखलें.

आप लोग के बतावत चलल जाव की ऐसे पहिले 11 दिसंबर 2015 के सिवान के विशेष अदालत द्वारा बहुचर्चित तेजाब हत्या कांड में शहाबुद्दीन के उम्र कैद के सजा सुनावल गइल रहल.

शहाबुद्दीन के साथ साथ राजकुमार साह,मुन्ना मियां आ शेख असलम के भी उम्र कैद के सजा सुनावल गइल रहे.

निचली अदालत के फैसला के चुनौती देत शहाबुद्दीन के वकील द्वारा उच्च न्यायालय में याचिका दायर कइल गइल रहल.

एह मामले में मोहम्मद शहाबुद्दीन दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद बाड़ें.